अभिलेखागार

निक्की हेली ने इजरायली बम पर लिखा 'Finish Them!' शरणार्थी हत्याकांड के बाद

निक्की हेली ने इजरायली बम पर लिखा 'Finish Them!' शरणार्थी हत्याकांड के बाद
  • 0

निक्की हेली का विवादास्पद दौरा

निक्की हेली, जो कभी साउथ कैरोलिना की गवर्नर थीं और 2024 रिपब्लिकन नामांकन की दावेदार थीं, ने हाल ही में इजरायल का दौरा किया। इस दौरे के दौरान उन्होंने एक इजरायली किबुत्ज़ का दौरा किया, जो हमास के 7 अक्टूबर के हमले से बुरी तरह प्रभावित हुआ था। इस दौरे के दौरान, हेली ने एक इजरायली तोप के गोले पर 'Finish Them!' यानी 'खत्म कर दो!' लिखकर हस्ताक्षर भी किए। इस घटना का चित्रण क्नसेट सदस्य और पूर्व UN प्रतिनिधि डैनी डैनन द्वारा साझा की गई फोटो कोलाज में हुआ।

इजरायली हवाई हमले और उनकी प्रतिक्रिया

इस घटना से कुछ ही समय पहले, इजरायली हवाई हमलों में गाजा के दक्षिणी हिस्से में स्थित शरणार्थी शिविरों में 40 से अधिक फिलिस्तीनी मारे गए थे। यह हिंसा 7 अक्टूबर से बढ़ती जा रही है, जब हमास ने इजरायल पर हमला किया था। तब से इजरायल ने गाजा पट्टी पर भारी बमबारी की है, जिससे 34,000 से अधिक फिलिस्तीनी मारे गए हैं और लाखों लोगों को रफाह के दक्षिणी क्षेत्र में विस्थापित किया गया है।

अंतरराष्ट्रीय प्रतिक्रिया और कानूनी कार्रवाई

अंतरराष्ट्रीय प्रतिक्रिया और कानूनी कार्रवाई

यह घटना सिर्फ क्षेत्रीय संघर्ष तक सीमित नहीं रही। फिलिस्तीनियों की बड़े पैमाने पर हत्या और विस्थापन के चलते, अंतरराष्ट्रीय समाज ने इस पर कड़ी प्रतिक्रिया व्यक्त की है। अंतरराष्ट्रीय अपराध न्यायालय (ICC) ने इजरायली प्रधानमंत्री बेंजामिन नेतन्याहू, हमास नेता यह्या सिनवार और कई अन्य अधिकारियों के खिलाफ युद्ध अपराध और मानवता के खिलाफ अपराध के आरोप में गिरफ्तारी वारंट जारी किए हैं।

अंतरराष्ट्रीय न्यायालय ने दिये आदेश

अंतरराष्ट्रीय न्यायालय (International Court of Justice) ने इजरायल को रफाह पर अपने हमले को रोकने के आदेश दिए हैं, लेकिन इजरायल ने अमेरिकी समर्थन के साथ अपने हमले को बढ़ा दिया है। इस घटना ने दुनिया भर में नैतिक बहस को जन्म दिया है, जहां एक तरफ इजरायल अपनी सुरक्षा का दावा करता है, वहीं दूसरी तरफ फिलिस्तीनी नागरिकों के अधिकारों और उनके संरक्षण की मांग की जाती है।

हेली की प्रतिक्रिया और अमेरिकी राजनीति

हेली की प्रतिक्रिया और अमेरिकी राजनीति

निक्की हेली ने इजरायल की अपनी यात्रा के दौरान यह कहा कि यह संघर्ष अमेरिका में भी हो सकता है, इसे एक नैतिक पाठ के रूप में पेश किया। अमेरिकन राजनीतिक दृष्टिकोण से, हेली की इस यात्रा और उनके बयान ने कई विवादों को जन्म दिया है। कुछ इसे समर्थन के रूप में देख रहे हैं, वहीं अन्य इसे एक संवेदनशील मुद्दे का राजनीतिकरण मान रहे हैं। हेली ने अपने बयान में इजरायल के समर्थन में जोर देते हुए कहा कि इजरायली नागरिकों की सुरक्षा बेहद महत्वपूर्ण है और उन्हें अपनी रक्षा का पूरा अधिकार है।

अब आगे क्या?

निक्की हेली की इस घटना से अंतराष्ट्रीय राजनीति में भूचाल मच गया है। अमेरिका का इजरायल को समर्थन, और इसके खिलाफ अंतरराष्ट्रीय न्यायालय के आदेश दोनों ही अपने अपने स्थान पर महत्वपूर्ण हैं। जहां एक तरफ इजरायल अपनी सरहदों की हिफाजत के लिए संघर्ष कर रहा है, वहीं दूसरी ओर फिलिस्तीनी अपनी जिंदगी और अपने घरों की सुरक्षा के लिए लड़ाई लड़ रहे हैं। दुनिया भर में इस विवाद का हल ढूंढना जरूरी है, ताकि इनसानी जिंदगी की कदर की जा सके और दोनों पक्षों की सुरक्षा सुनिश्चित की जा सके।

अंजलि सोमवांस

लेखक के बारे में

अंजलि सोमवांस

मैं एक स्वतंत्र पत्रकार हूँ जो भारत में दैनिक समाचारों के बारे में लिखती हूँ। मुझे लेखन और रिपोर्टिंग में गहरी रुचि है। मेरा उद्देश लोगों तक सटीक और महत्वपूर्ण जानकारी पहुँचाना है। मैंने कई प्रमुख समाचार पत्रों और वेबसाइट्स के लिए काम किया है।

एक टिप्पणी लिखें

अभिलेखागार