बाबर आज़म पर पूर्व साथी का तीखा निशाना: सोशल मीडिया किंग का पर्दा उठाया

बाबर आज़म पर पूर्व साथी का तीखा निशाना: सोशल मीडिया किंग का पर्दा उठाया
  • 0

अहमद शहजाद का आरोप: बाबर आज़म केवल सोशल मीडिया किंग

पूर्व पाकिस्तानी क्रिकेटर अहमद शहजाद ने हाल में पाकिस्तान क्रिकेट टीम पर सीधा हमला बोलते हुए कप्तान बाबर आज़म समेत कई शीर्ष खिलाड़ियों की आलोचना की है। उन्होंने कहा कि टीम के अंदर गुटबाज़ी का माहौल हो गया है, जिसमें बाबर आज़म, शाहीन अफरीदी, मोहम्मद रिज़वान, फखर ज़मान और हारिस रऊफ शामिल हैं। उनका कहना है कि इन सभी खिलाड़ियों ने अपने प्रदर्शन से टीम को निराश किया है और इन्हें पर्याप्त मौकों के बावजूद भी ऐसा किया है।

शहजाद ने की सख़्त कार्रवाई की मांग

अहमद शहजाद का मानना है कि पाकिस्तान क्रिकेट बोर्ड (PCB) को अब इन खिलाड़ियों पर सख्त कार्रवाई करनी चाहिए। उन्होंने कहा कि PCB के चेयरमैन मोहसिन नकवी का बाबर को दोबारा कप्तान बनाना और वहाब रियाज़ को मुख्य चयनकर्ता नियुक्त करना गलत निर्णय थे। शहजाद का कहना है कि इन गलतियों के कारण ही टीम टी20 वर्ल्ड कप से बाहर हो गई। उन्होंने आरोप लगाया कि इन खिलाड़ियों का नेतृत्व और फ़िटनेस स्तर भी सवालों के घेरे में है।

टीम के प्रदर्शन पर सवाल

टीम के प्रदर्शन पर सवाल

शहजाद ने आगे कहा कि बाबर आज़म और अन्य वरिष्ठ खिलाड़ियों ने टीम के अंदर गुटबाज़ी को बढ़ावा दिया है और अपने करीबी दोस्तों को बचाने की कोशिश की है। इससे टीम का प्रदर्शन प्रभावित हुआ है। उन्होंने बाबर को 'सोशल मीडिया किंग' का ख़िताब देते हुए कहा कि वह अपनी निजी उपलब्धियों पर ज्यादा ध्यान देते हैं और टीम के बारे में सोचने की बजाय अपने सोशल मीडिया की छवि सुधारने में लगे रहते हैं।

खिलाड़ियों की संख्या और फिटनेस पर निशाना

अहमद शहजाद ने बड़ा आरोप लगाते हुए कहा कि कुछ खिलाड़ी अपनी फिटनेस बनाए रखने में नाकामयाब रहे हैं और उन्होंने अपनी फिटनेस पर ध्यान देने के बजाय अपने व्यक्तिगत लक्ष्यों पर अधिक ध्यान केंद्रित किया है। इससे टीम का समग्र प्रदर्शन कमजोर हुआ है।

PCB पर भी उठाए सवाल

PCB पर भी उठाए सवाल

शहजाद ने PCB की नीतियों पर सवाल उठाए और कहा कि कप्तान बाबर आज़म को फिर से मौका देना और वहाब रियाज़ को चीफ सिलेक्टर बनाना बोर्ड का बड़ा ब्लंडर रहा। इसके चलते ही टीम को वर्ल्ड कप में हार का सामना करना पड़ा और टीम का मनोबल गिरा।

भविष्य की चुनौतियां

पाकिस्तान क्रिकेट टीम की यह हार सिर्फ एक टूर्नामेंट की हार नहीं है, बल्कि यह पूरी टीम की मानसिकता और कामकाज पर सवाल खड़े करती है। शहजाद का मानना है कि टीम को फिर से संगठित करने और खिलाड़ियों की मानसिकता बदलने की जरूरत है। बोर्ड को भी अपने फैसलों पर पुनर्विचार करना होगा और टीम की बेहतरी के लिए सख्त कदम उठाने होंगे।

निष्कर्ष

निष्कर्ष

अहमद शहजाद के इस हमले ने पाकिस्तान क्रिकेट टीम के अंदर की स्थिति को उजागर किया है। यह समझना जरूरी है कि टीम की सफलता के लिए एकजुटता और अनुशासन अति आवश्यक हैं। PCB और टीम प्रबंधकों को इस समस्या का समाधान निकाल कर टीम को फिर से पटरी पर लाना होगा।

अंजलि सोमवांस

लेखक के बारे में

अंजलि सोमवांस

मैं एक स्वतंत्र पत्रकार हूँ जो भारत में दैनिक समाचारों के बारे में लिखती हूँ। मुझे लेखन और रिपोर्टिंग में गहरी रुचि है। मेरा उद्देश लोगों तक सटीक और महत्वपूर्ण जानकारी पहुँचाना है। मैंने कई प्रमुख समाचार पत्रों और वेबसाइट्स के लिए काम किया है।

एक टिप्पणी लिखें